Pari Digital Marketing

success behind you

Breaking

Tuesday, 7 April 2020

How to calculate EMI Moratorium Extra Interest Amount

Thanks For Visit My Website
How to calculate EMI Moratorium Extra Interest Amount
हैलो दोस्तों कोरोना वायरस ने सबके जीवन में उथल पुथल मचा राखी है। हर देश इससे बचने के उपाए ढूढ़ रहे है। हर कोई किसी न किसी तरीके से आपस में मदद कर रहा है। 
यह सब देखते हुए बैंको ने अपने ग्राहकों को भी EMI रोकने का तरीका दिया है। जिस से आप EMI को 1 से 3 महीने के लिए रोक सकते है हालांकि उसकी कुछ टर्म एंड कंडीशन है जिसमे बैंको ने व्याज का प्रावधान किया है। सीधा कहे तो बैंक EMI रोकने की सुविधा तो देगी पर आपको इसका कुछ चार्ज देना पड़ेगा। 
इस पोस्ट में आपको EMI Moratorium का ऑप्शन चुनते है तो आपको कितना एक्स्ट्रा Interest देना पड़ेगा यह आपको बताने बाले हैं। 


EMI Moratorium के एक्स्ट्रा ब्याज को कैसे निकले
यदि आप बैंको द्वारा दी गयी EMI Moratorium का विकल्प चुनते है तो आपको कितना ज्यादा और बैंको को देना पड़ेगा। 

ईएमआई पर 3 महीने की राहत पर कितना ज्यादा ब्याज देना होगा
EMI par 3 mahine ki rahat par kitna byaj dena hoga
ईएमआई पर 3 महीने की राहत पर कितना ज्यादा ब्याज देना होगा यह बैंको के टर्म एंड कंडीशन पर निर्भर करता हैं की वो आपको किस तरह की छूट दे रही हैं , जैसे आपको ३ महीने बाद किस तरह emi कट बानी है। 
EMI Moratorium में जेनेरेटेड हुई एक्स्ट्रा ब्याज को आप कैसे चुकाना चाहते हैं। 

इसके लिए 4 टाइप हो सकते हैं :
चरण 1 . एक्स्ट्रा ब्याज को EMI Amount बढाकर देना चाहते हैं 
चरण 2 . एक्स्ट्रा ब्याज को EMI का समय बढाकर देना चाहते हैं 
चरण 3 . एक्स्ट्रा ब्याज को EMI की Rate बदलकर देना चाहते हैं 
चरण 4 . एक्स्ट्रा ब्याज को लोन के अन्त में देना चाहते हैं। 

Yadi ईएमआई Moratorium ko Use Karte Hai To Lon par Kitna byaj Dena Padega
हालांकि यह बैंक पर निर्भर करता हैं कि बैंक अपने ग्राहकों को कैसी सुविधा देना  चाह रही हैं। 
दोस्तों आप बहुत आसानी से आप EMI Moratoriun की अतिरिक्त ब्याज निकल सकते हैं हालांकि यह सटीक calculation नहीं हैं पर आप बहुत कुछ जान सकते हैं। 
इसके लिए दिए गए link पर जाकर EMI Calculation Sheet Download करें 

EMI Calculation Sheet Download Click HERE 

शीट को डाउनलोड करके पिंक बाली जगह पर अपना डिटेल्स भरे जैसे लोन राशि , समय, और दर भरकर आप बहुत ही आसानी से अतिरिक्त राशि देख सकते है। उसके बाद आपको कितना ब्याज ज्यादा देना है वह इस बात पर निर्भर करेगा की आप अतिरिक्त ब्याज किस प्रकार चुकाते हैं 



No comments:

Post a comment

Popular Posts

WooCommerce